-----कल के उत्तम भविष्य के लिए आज बिजली बचायें ----- उपकरणों के उपभोग के बाद तुरन्त बन्द कर दें ----- आग लगे भवन की बिजली तुरन्त बन्द कर दें ----- अधिक क्षमता वाले बल्बों के स्थान पर कम क्षमता वाले बल्बों का उपयोग करें ----- कम्पैक्ट-लोरेसेन्ट का प्रयोग करें ----- जीवन्त अधिष्ठापन पर कदापि कार्य न करें, बल्कि अधिष्ठापन की बिजली बन्द करके ही कार्य करें ----- एयर कण्डीशन का कम से कम उपयोग करें -----

होम

परिचय

संगठन

प्रशासनिक कार्य

विद्युत शुल्क

जनता के लिये सुझाव

निरीक्षण एवं परीक्षण शुल्क

ठेकेदार सूची

विद्युत शुल्क (इलेक्ट्रिसिटी ड्यूटी)

1- प्रदेश में विद्युत शक्ति के उपभोग पर शुल्क ( इलेक्ट्रिक ड्यूटी ) लगाये जाने का प्राविधान उत्तर प्रदेश इलेक्ट्रिसिटी (ड्यूटी) अधिनियम-1952 के अंतर्गत किया गया है। इलेक्ट्रिसिटी ड्यूटी के भुगतान इत्यादि से सम्बन्धित नियम - उत्तर प्रदेश इलेक्ट्रिसिटी ड्यूटी नियमावली, 1971 में दिये गये हैं।

2- उत्तर प्रदेश इलेक्ट्रिसिटी ड्यूटी अधिनियम, 1952 की धारा-3 के अंतर्गत उत्तर प्रदेश सरकार को विभिन्न श्रेणी के उपभोग पर इलेक्ट्रिसिटी ड्यूटी की दर निश्चित करने का अधिकार प्राप्त है।

3- इलेक्ट्रिसिटी ड्यूटी का भुगतान सरकारी कोषागार में निर्धारित समय के अन्दर जमा करने का उत्तरदायित्व यथास्थिति लाइसेंसी, बोर्ड, नामित अधिकारी तथा अन्य व्यक्ति का है।

4- इस शासकीय समय प्रदेश में लागू इलेक्ट्रिसिटी ड्यूटी की दर से सम्बन्धित शासकीय अधिसूचना संख्या -02-पी-3/97-24-85 पी-84, दिनांक 03 जनवरी, 1997 पर तथा अधिसूचना संख्या -232 पी-3/98-24-85 पी-84, दिनांक 06 फरवरी, 1998 पर है।

5- उत्तर प्रदेश इलेक्ट्रिसिटी ड्यूटी नियमावली, 1971 के नियम-8 में अर्धवार्षिक तथा वार्षिक विवरण निर्धारित प्रारूप पर निश्चित समय अवधि के अन्दर प्रस्तुत किये जाने का प्राविधान हैं यह विवरण लाइसेंसी, नियुक्त प्राधिकारी या अन्य व्यक्ति द्वारा प्रस्तुत किया जाना है।

Back Contd..