-----कल के उत्तम भविष्य के लिए आज बिजली बचायें ----- उपकरणों के उपभोग के बाद तुरन्त बन्द कर दें ----- आग लगे भवन की बिजली तुरन्त बन्द कर दें ----- अधिक क्षमता वाले बल्बों के स्थान पर कम क्षमता वाले बल्बों का उपयोग करें ----- कम्पैक्ट-लोरेसेन्ट का प्रयोग करें ----- जीवन्त अधिष्ठापन पर कदापि कार्य न करें, बल्कि अधिष्ठापन की बिजली बन्द करके ही कार्य करें ----- एयर कण्डीशन का कम से कम उपयोग करें -----
  परिशिष्ट-6.3

क्रम संख्या-1-(ग)

रजि0नं0. एल0डब्लू0/एन0पी0-890,
लाइसेंस नं0 डब्लू0पी0-41
लाइसेंस टू पोस्ट कन्सेशलनल रेट

सरकारी गजट, उत्तर प्रदेश
असाधारण

विधायी परिशिष्ट

भाग-4,खण्ड (ख)

(परिनियत आदेश)लखनऊ, शनिवार, 3 जनवरी, 1997

पोश 13,1918 शक सम्वत्

उत्तर प्रदेश सरकार

ऊर्जा अनुभाग-3

संख्या 02-पी-3/97-24-85 पी/84

लखनऊः 3 जनवरी, 1997

अधिसूचना

प0आर0--1

उ0प्र0 इलेक्ट्रिसिटी (ड्यूटी)अधिनियम, 1952 (उ0प्र0अधिनियम संख्या-33 सन् 1952)की धारा -3 के अधीन शक्ति का प्रयोग करके और सरकारी, अधिसूचना संख्या-6089 पी-3/86-23, दिनांक 23 दिसम्बर, 1986 का अतिक्रमण करते हुये अधिसूचना संख्या 1839 पी-3/85-23-85 पी-84, दिनांक 29 मार्च,1985 द्वारा विद्युत उपभेाग पर निर्धारित इलेक्ट्रिसिटी ड्यूटी की दरों में संशोधन करके विभिन्न प्रकार के विद्युत उपभोग पर निम्नलिखित दरें निर्धारित करते हुये राज्यपाल महोदय यह आदेश देते हैं कि इस अधिसूचना की तिथि से इलेक्ट्रिसिटी ड्यूटी निम्नलिखित दर से उदग्रहीत की जाये।
 
क्रमांक
उपयोग का विवरण
इलेक्ट्रिसिटी ड्यूटी
(एक) (क)
जहां उपभेक्ता भूग्रहादि पर कंस्ट्रेक्टेड लोड 75 किलोवाट या 100 ब्रेक हार्स पावर से अधिक न हो
9 पैसे प्रति यूनिट
(ख)
जहां उपभेक्ता भूग्रहादि पर कंस्ट्रेक्टेड लोड 75 किलोवाट या 100 ब्रेक हार्स पावर से अधिक हो
9 पैसे प्रति यूनिट
(दो)
राज्य सरकार द्वारा उपयुक्त या राज्य सरकार द्वारा उपभोग किये जाने के लिये उसे बेची गयी इनर्जी पर
3 पैसे प्रति यूनिट
(तीन)
उपर्युक्त मद (एक) और(दो) में उल्लिखित प्रयोजनों से भिन्न भिन्न प्रयोजनों के लिये:
(क)
नियत प्रभार(फिक्सड चार्ज) पर बिना मीटर लगे संभरण के लिये
प्रभारित दर का 20
(ख)
मीटर लगे संभरण की स्थिति में:-
प्रभावित दर
इलेक्ट्रिसिटी ड्यूटी
1--24 पैसे प्रति यूनिट तक और उसके सहित
9 पैसे प्रति यूनिट
2--24 पैसे प्रति यूनिट से अधिक किन्तु 38 पैसे प्रति यूनिट से अनधिक
9 पैसे प्रति यूनिट
3-- 38 पैसे प्रति यूनिट से अधिक
9 पैसे प्रति यूनिट
(चार)
किसी अन्य व्यक्ति द्वारा अधिश्ठापित अपने निजी विद्युत उत्पादन स्त्रोत से औद्यौगिक तथा अन्य प्रयोजनों के लिये उपभुक्त इनर्जी पर:
3 पैसे प्रति यूनिट
2- राज्यपाल महोदय यह भी आदेश देते हैं कि किसी व्यक्ति द्वारा अपने निजी विद्युत उत्पादन स्त्रोत से विद्युत उत्पादन की प्रक्रीया में उपभुक्त इनर्जी पर कुल उत्पादित यूनिट से 10 प्रतिशत तक इलेक्ट्रिसिटी ड्यूटी के उदग्रहण से छूट मिलेगी
 
राज्यपाल की आज्ञा से,
शंकर अग्रवाल,
सचिव ।