-----कल के उत्तम भविष्य के लिए आज बिजली बचायें ----- उपकरणों के उपभोग के बाद तुरन्त बन्द कर दें ----- आग लगे भवन की बिजली तुरन्त बन्द कर दें ----- अधिक क्षमता वाले बल्बों के स्थान पर कम क्षमता वाले बल्बों का उपयोग करें ----- कम्पैक्ट-लोरेसेन्ट का प्रयोग करें ----- जीवन्त अधिष्ठापन पर कदापि कार्य न करें, बल्कि अधिष्ठापन की बिजली बन्द करके ही कार्य करें ----- एयर कण्डीशन का कम से कम उपयोग करें -----

टैन्टेज में रहने वाले व्यक्तियों द्वारा विद्युत से सुरक्षाः

1. बिना जरूरत के बल्ब/ट्यूब/पंखा प्रयोग में न लाया जाये।

 

2. टैन्ट से बाहर जाते वक्त सभी स्विच ऑफ कर दिये जाये।

 

3. वाटर इमरशन राड़, विद्युत हीटर अथवा इलैक्ट्रिक प्रेस बिना अनुमति के प्रयोग में न लायें।

 

4. यदि कोई उपकरण जैसे वाटर इमरशन राड़/विद्युत हीटर, इलैक्ट्रिक प्रेस प्रयोग में लाना है तो अपने टैन्ट की वायरिंग में साकेट आऊट लैट/प्लग प्वाइन्ट का प्राविधान विद्युत ठेकेदार से कराकर ही प्रयोग करें।

 

5. विद्युत वायरिंग पर कोई चीज, कपड़ा आदि न टांगी जाये और न ही उसका सहारा लेकर रखी जाये।

 

6. यदि विद्युत जारों में कोई स्पार्किंग हो अथवा वायरिंग का इन्सुलेशन पिघले तो तुरन्त मेन स्विच ऑफ करके तत्काल इसकी सूचना कन्ट्रोल रूम को दें।

 

7. विद्युत से आग तथा दुर्घटना से बचने के लिए अपने टैन्ट में विद्युत सुरक्षा विभाग (निदेशालय) द्वारा अनुमोदित सीको मेक अर्थ लीकेज प्रोटेक्टिव डिवाइस सम्बन्धित विद्युत ठेकेदार से लगवायें।

 

8. आग, बिजली और पानी किसी के भी दोस्त नहीं है अतः बिजली के तारों, बल्ब के होल्डर, ट्यूब फिटिंग तथा प्लग प्वाइंटर से आप स्वयं तथा बच्चे आदि छेड़-छाड़ न हरें।

 

9. अपने टैन्ट की वायरिंग में मेन स्विच लगावकर उसमें कटआउट तथा उपयुक्त क्षमता का फ्यूज लगवाया जान सम्बन्धित विद्युत ठेकेदार से सुनिश्चित करायें।

 

10. टिन शेड एवं मेटालिक उपकरणों को विद्युत ठेकेदार द्वारा अर्थिग करायें।

 

11. विद्युत से आग लगने पर सबसे पहले मेन स्विच ऑफ करें तथा आग को पानी से कभी न बुझायें बल्कि सूखा रेत/बालू से आग बुझायें तथा इसकी सूचना तत्काल कन्ट्रोल रूम को दें।

 

12. विद्युत शॉक से पीड़ित व्यक्ति को पानी आदि न पिलायें बल्कि निकट के क्षेत्रीय स्वास्थ्य कैम्प में ले जायें।

 

13. विद्युत शॉक से पीड़िता व्यक्ति को कभी भी हाथ से पकड़कर न छुड़ाये अन्यथा आपको भी विद्युत शॉक लग सकता है। सूखे डण्डे/सूखी लकड़ी से ऐसे व्यक्ति ाक बिजली वायरिंग से हटायें।

 

14. विद्युत वायरिंग के समीप अंगीटी/चूल्हा/गैस बर्नर न जालायें अन्यथा इसकी गर्मी से वायरिंग शार्ट होकर आग लग सकती है।